Computer Full Form In Hindi : कंप्यूटर का फुल फॉर्म

Computer full Form in Hindi आज का युग डिजिटल युग है और इस युग में बिना Computer के कोई वर्क करना मानो असंभव है , इसीलिए आज के समय में हर कोई स्टूडेंट को computer के बारे में जानना अति आवश्यक है । और बहुत से ऐसे स्टूडेंट है जिन्हें computer का पूरा नाम नही मालूम है , इसलिए सोचा क्यूँ न इसके बारे में आपको जानकारी दूँ ।

इस पोस्ट के माध्यम से आपको Computer के बारे में जानकारी मिलेगी जैसे computer क्या है Computer full form in Hindi computer के प्रकार इत्यादि पूरी जानकारी के आप मेरे साथ अंत तक जरुर बने रहे ।

Whatsapp Channel
Telegram channel

Computer Full Form In Hindi 

Computer का फुल फॉर्म  “Common Operating Machine Purposely Used for Technological and Educational Research”। यह परिभाषा 1967 में विद्युत और इलेक्ट्रॉनिक्स अभियांत्रिकी संस्थान (IEEE) ने दी थी। पहले कंप्यूटर का उपयोग वैज्ञानिक और सैन्य अनुसंधान के लिए किया जाता था, लेकिन समय के साथ, उनका उपयोग व्यापक हो गया।

कंप्यूटर का फुल फॉर्म है

कंप्यूटर एक ऐसा यंत्र है जो दिए गए गणितीय और तार्किक संक्रियाओं को स्वचालित रूप से करने में सक्षम है। कंप्यूटर का शब्द “compute” से बना है, जिसका मतलब होता है “गणना करना”। कंप्यूटर को हिंदी में “संगणक”, “परिकलक” या “अभिकलक” भी कहा जाता है।

Computer full form in hindi
Computer full form in hindi
  • Common –  सामान्य,
  • Operating – संचालित, कार्यरत
  • Machine – मशीन, यंत्र
  • Purposely–  जान-बूझकर, उद्देश्यपूर्वक
  • Used– प्रयुक्त, इस्तेमाल किया
  • For– के लिए
  • Technological– प्रौद्योगिकी संबंधी, तकनीकी
  • Educational–   शैक्षिक, शिक्षा संबंधी
  • Research– अनुसंधान, शोध

कंप्यूटर के मुख्य भाग

हार्डवेयर

कंप्यूटर के वे भाग, जिनमें भौतिक संरचना होती है, जैसे कीबोर्ड, माउस, मॉनिटर, प्रिंटर, CPU, हार्ड डिस्क, रैम, मदरबोर्ड, पावर सप्लाई, केबल, प्रतिरोधक, संधि, प्रकाशकीय प्रतिरोधक (LED), प्रतिध्वनि (Buzzer) आदि।

सॉफ्टवेयर

कंप्यूटर के वे भाग, जो हार्डवेयर को काम करने के लिए निर्देश (instructions) देते हैं, जैसे ऑपरेटिंग सिस्टम (Windows, Linux, Mac OS), एप्लीकेशन (Word, Excel, PowerPoint), प्रोग्राम (C++, Java, Python), मल्टीमीडिया (Photoshop, Audacity), सुरक्षा (Antivirus, Firewall), मनोरंजन (Games, Movies)

कंप्यूटर की मुख्य विशेषताएं

गति

कंप्यूटर बहुत तेजी से गणनाएं कर सकता है। कंप्यूटर की गति को हर्ट्ज (Hz) में मापा जाता है। एक हर्ट्ज का मतलब है कि कंप्यूटर एक सेकंड में एक बार काम कर सकता है। आधुनिक कंप्यूटरों की गति गीगाहर्ट्ज (GHz) में होती है, जो कि एक सेकंड में अरबों बार काम करने का मतलब है ।

स्वचालन

कंप्यूटर स्वचालित रूप से काम कर सकता है, यानी कि उसे पहले से प्रोग्रामिंग (programming) के माध्यम से निर्देश (instructions) दिए जाते हैं, फिर वह उन्हें पालन करता है ।

शुद्धता

कंप्यूटर में मानवीय त्रुटियों (human errors) की संभावना नहीं होती है, अत: वह परिणाम (results) में शुद्धता (accuracy) प्रदान करता है ।

सार्वभौमिकता

कंप्यूटर सार्वभौमिक (versatile) होता है, यानी कि वह अलग-अलग प्रकार के कामों (tasks) में प्रयोग हो सकता है, जैसे प्रस्तुतियाँ (presentations), समाचार (news), समीक्षा (reviews), समस्या-समाधान (problem-solving), मनोरंजन (entertainment), सुरक्षा (security), संचार (communication), प्रोसेसिंग (processing), सिमुलेशन (simulation), प्रोजेक्शन (projection) आदि ।

संग्रहण

कंप्यूटर में संग्रहण (storage) की क्षमता (capacity) होती है, जिसके माध्यम से वह सूचना (information) को सुरक्षित (secure) और पुन: प्राप्त (retrieve) करने में सक्षम होता है ।

कंप्यूटर के प्रकार

कंप्यूटर के प्रकार को विभिन्न आधारों पर वर्गीकृत किया जा सकता है। कुछ सामान्य आधार हैं-

  • कार्यप्रणाली के आधार पर
  • उद्देश्य के आधार पर
  • आकार के आधार पर

कार्यप्रणाली के आधार पर

कार्यप्रणाली के आधार में computer के प्रकार निम्नलिखित हैं:

Analog Computer

ये वे computer हैं जो भौतिक मात्राओं (जैसे दाब, तापमान, लम्बाई, ऊँचाई आदि) को मापकर उनके परिमाप को अंकों में व्यक्त करते हैं। ये computer सतत (लगातार) परिवर्तित होते हुए मात्राओं को प्रोसेस करते हैं। इनका परिणाम हमें ग्राफ, मीटर, स्केल आदि के रूप में प्राप्त होता है। इनका उपयोग विज्ञान, इंजीनियरिंग, मेडिकल, सेना आदि क्षेत्रों में किया जाता है।

Digital Computer

ये वे computer हैं जो सूचनाओं को अंकीय (numeric) रूप में प्रोसेस करते हैं। ये computer सूचनाओं को binary system (0,1) का इस्तेमाल करके प्रोसेस करते हैं। ये computer गणितीय (arithmetic) और तार्किक (logical) कार्य करने में सक्षम होते हैं।

इनका परिणाम हमें संख्या, पत्र, संकेत, समीकरण, समस्या-हल, सुझाव, सलाह, प्रस्तुति, संगीत, चित्र, वीडियो, सुरक्षा-प्रमाणपत्र, पहुंच-पत्र (password), पहुंच-संकेत (username), पहुंच-सुरक्षा-प्रमाणपत्र (access-token), पहुंच-सुरक्षा-संकेत (access-key), पहुंच-सुरक्षा-पहुंच-पत्र (access-password), पहुंच-सुरक्षा-पहुंच-संकेत (access-username), पहुंच-सुरक्षा-पहुंच-सुरक्षा-प्रमाणपत्र (access-access-token), पहुंच-सुरक्षा-पहुंच-सुरक्षा-संकेत (access-access-key)  etc. के रूप में प्राप्त होता है।

Hybrid Computer

 ये वे computer हैं जो analog computer और digital computer की समीपता (features) को मिलाकर hybrid computer कहलाते है.

आकार के आधार पर

Micro Computer

 ये वे computer हैं जो आकार में छोटे होते हैं और एक ही microprocessor chip में सभी कार्यों को करते हैं। ये computer सस्ते, सरल और पर्सनल उपयोग के लिए होते हैं। इनका प्रोसेसिंग पावर, मेमोरी, स्पीड और स्टोरेज कम होता है। इनका उदाहरण है: Desktop PC, Laptop, Tablet, Smartphone, Smartwatch etc.

Workstation

ये वे computer हैं जो micro computer से थोड़ा बड़े होते हैं और उनसे ज़्यादा प्रोसेसिंग पावर, मेमोरी, स्पीड और स्टोरेज का होता हैं। ये computer पेशेवर (professional) उपयोग के लिए होते हैं, जहाँ 3D graphics, animation, video editing, scientific computing, engineering design etc. की ज़रुरत होती है।

Mini Computer

 ये वे computer हैं जो workstation से ज़्यादा प्रोसेसिंग पावर, मेमोरी, स्पीड और स्टोरेज का होता हैं। ये computer मध्यम (medium) स्तर के कार्यों के लिए होते हैं, जहाँ कई users को network में connect करना पड़ता है।

Mainframe Computer

  ये वे computer हैं जो mini computer से ज़्यादा प्रोसेसिंग पावर, मेमोरी, स्पीड और स्टोरेज का होता हैं।  ये computer  बहुत  बड़े (large) स्तर के कार्यों के  लिए  होते  हैं,  जहाँ  लाखों users को network में connect करना पड़ता है।

Super computer

  ये  वे computer  हैं  जो mainframe computer से  सबसे  ज़्यादा प्रोसेसिंग पावर, मेमोरी, स्पीड  और  स्टोरेज  का  होता  हैं ।

उद्देश्य के आधार पर

General Purpose Computer

ये वे computer हैं जो किसी विशेष उद्देश्य के लिए नहीं बनाए गए होते हैं, बल्कि विभिन्न प्रकार के कार्यों को करने में सक्षम होते हैं। ये computer सामान्य (common) users के लिए होते हैं, जो अपनी ज़रुरत के अनुसार किसी भी प्रकार का software install कर सकते हैं।

Special Purpose Computer

  ये वे computer  हैं  जो  किसी  विशेष  उद्देश्य  के  लिए  बनाए  गए  होते  हैं,  और  सिर्फ  उसी  प्रकार  का  कार्य  करने में सक्षम होते हैं। ये computer पेशेवर (professional) users के लिए होते हैं, जो किसी समस्या का समाधान निकालने के लिए specialized software का उपयोग करते हैं।

General Purpose Computer का उदाहरण

Desktop PCये वे computer हैं जो घरों, दफ्तरों, स्कूलों, कॉलेजों, सार्वजनिक स्थानों में प्रयोग किए जाते हैं। ये computer किसी भी प्रकार के software को install करके, किसी भी प्रकार का data input, output, process, store कर सकते हैं।

Laptop

  ये  वे computer  हैं  जो  desktop PC  की  तरह  काम  करते  हैं,  लेकिन  इनमें  बैटरी,  स्क्रीन,  कीबोर्ड,  माउस  etc.  का  integration होता है। ये computer portable (सुविधाजनक) होते हैं, और कहीं भी ले जा सकते हैं।

Tablet

 ये  वे computer  हैं  जो laptop से  भी  छोटे होते हैं, और touchscreen interface (स्पर्शपटल) का प्रयोग करते हैं। ये computer mobile applications (मोबाइल अनुप्रयोग) का प्रयोग करते हैं, और internet (इंटरनेट), multimedia (मल्टीमीडिया), gaming (खेल), education (शिक्षा) etc. के लिए प्रयोग किए जाते हैं।

Smartphone

  ये  वे computer  हैं  जो tablet से  भी  स्मार्ट होते हैं, और phone (फोन) की functionality (कार्यक्षमता) का प्रयोग करते हैं। ये computer voice (स्वर), text (पाठ), video (वीडियो), image (तस्वीर) etc. का communication (संप्रेषण) कर सकते हैं, और social media (सामाजिक मीडिया), e-commerce (e-कमर्स), e-learning (e-सीखना) etc. का access (पहुंच) प्रदान कर सकते हैं।

Smartwatch

Smart watch भी एक प्रकार का computer ही जिसमे हमें Calling , टाइम , हार्ट रेट , ब्लू थुट इत्यादि प्रदान करता है ।

Special Purpose Computer का उदाहरण

पेट्रोल पंप मशीन

 यह एक हाइब्रिड कम्प्यूटर है, जो ईंधन की मात्रा और मूल्य को मापने और प्रकट करने के लिए बनाया गया है।

स्पीडोमीटर

यह एक हाइब्रिड कम्प्यूटर है, जो वाहन की गति (speed) और दूरी (distance) को मापने और प्रकट करने के लिए बनाया गया है।

कैलकुलेटर 

यह  एक  डिजिटल  कम्प्यूटर  है,  जो  सामान्य  गणितीय  कार्यों  को  करने  के  लिए  बनाया  गया  है।

सुपरकम्प्यूटर 

यह  एक  डिजिटल  कम्प्यूटर  है,  जो  तेजी से (rapidly) और समुल्लेख (parallel) में प्रसंस्करण (processing) करने के लिए बनाया गया है

 आज आपने क्या सीखा

Computer full form in Hindi इस article से आपको यह ज्ञात हो ही गया होगा की Computer का फुल फॉर्म क्या होता है और साथ में computer के प्रकार computer का अविष्कार आदि के बारे में जानकारी ली गयी

अगर आपका इस Article को लेकर कोई सवाल है तो आप हमें comment कर के पूछ सकते है हम आपको पूरी तरह से सहायता करने की कोसिस करेंगे

FAQ Computer

  • कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या होता है ?

    Computer का फुल फॉर्म  “Common Operating Machine Purposely Used for Technological and Educational Research”  होता है

  • कंप्यूटर का दूसरा नाम क्या है?

    Computer का दूसरा नाम हिंदी में अभिकलित्र, संगणक, अभिकलक, परिकलक इन नामों से भी जाना जाता है

  • कंप्यूटर की खोज कब की गई थी?

    कंप्यूटर का आविष्कार Charles Babbage ने किया था। इन्हें कंप्यूटर का जनक कहा जाता है। 1822 में कंप्यूटर का आविष्कार किया था।

  • कंप्यूटर पिता का नाम कौन है?

    कंप्यूटर का आविष्कार Charles Babbage ने किया था। इन्हें कंप्यूटर का जनक/पिता कहा जाता है। 

  • विश्व का पहला कंप्यूटर का नाम क्या है?

    दुनिया का पहला Computer एनिऐक (ENIAC) जिसका फुल फॉर्म इलेक्ट्रौनिक न्यूमेरिकल इंटीग्रेटर एंड कंप्यूटर का संक्षिप्त रूप, एक पहला आम-उद्देश्य Electronic कंप्यूटर था।

2 thoughts on “Computer Full Form In Hindi : कंप्यूटर का फुल फॉर्म”

Leave a Comment